Uttar Pradesh , Uttarakhand News | उत्तर प्रदेश , उत्तराखंड की ताजा खबरें

डीडीए को समाप्त करने को लेकर गरजी सर्वदलीय संघर्ष समिति

अल्मोड़ा: पर्वतीय अंचल में जिला विकास प्राधिकरण (डीडीए) की व्यवस्था को समाप्त करने की मांग को लेकर मंगलवार को सर्वदलीय संघर्ष समिति ने गांधी पार्क में धरना दिया। कहा कि यदि समय रहते विकास प्राधिकरण की व्यवस्था को समाप्त नहीं किया गया तो आंदोलन को तेज कर दिया जाएगा। कहा जनता के हितों की अनदेखी किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसके लिए चाहे समिति को कितना ही संघर्ष क्यों नहीं करना पड़े।

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार समिति के पदाधिकारी व सदस्य स्थानीय गांधी पार्क चैघानपाटा पहुंचे, उन्होंने जिला विकास प्राधिकरण की व्यवस्था को पर्वतीय क्षेत्रों में समाप्त करने की मांग को लेकर गांधी पार्क में धरना दिया। साथ ही सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की। शारीरिक दूरी के मानकों के तहत हुई सभा में समिति के संयोजक नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश जोशी ने कहा कि जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण लागू होने से समूचे पर्वतीय क्षेत्र की जनता को अपने भवन निर्माण में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है तथा जनता पर अतिरिक्त आद्दथक बोझ भी पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों की भौगोलिक स्थिति इतनी विपरीत है कि यहां पर जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण को लागू किया जाना तर्कसंगत ही नहीं है। समिति के प्रवक्ता राजीव कर्नाटक ने कहा कि पिछले तीन वर्षो से स्थानीय लोग सर्वदलीय संघर्ष समिति के बैनर तले इस जनविरोधी जिला विकास प्राधिकरण को समाप्त करने के लिए आंदोलनरत हैं, लेकिन प्रदेश सरकार कानों में उंगली डालकर बैठी है। उसे जनता के हितों से कोई सरोकार ही नहीं है। धरने में कांग्रेस नगर अध्यक्ष पूरन सिंह रौतेला, कांग्रेस जिला सचिव दीपांशु पाण्डे, उपपा की केंद्रीय सचिव आनंदी वर्मा, महेश आर्या, हर्ष कनवाल, हेम तिवारी, चन्द्र कांत जोशी, पवन कुमार, राजू गिरि, ललित मोहन जोशी, रमेश नेगी, असलम, पुष्कर पांडे, प्रताप सत्याल, भारतरत्न पांडे, ललित मोहन पंत, शरद साह, आलोक साह आदि मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.