Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग में ग्रामीणों ने अपने खर्च से बनाया क्वारंटीन सेंटर

उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले के मदोला गांव के लोगों ने खुद के संसाधनों से हाईटेक क्वारंटीन सेंटर बना कर कोरोना काल में शानदार मिसाल पेश की है। बाहरी प्रदेशों से अपने गांव वापस लौट रहे लोगों को 14 दिन तक किसी तरह की असुविधा न हो, इसके लिए ग्रामीणों ने तमाम सुविधाओं से लैस क्वारंटीन सेंटर बनाया है। टेंट में बनाए गए इस क्वारंटीन सेंटर में 25 लोगों के रहने के लिए पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। इसमें बिस्तर, शौचालय, टीवी, पंखे आदि की समुचित व्यवस्था की गई है। क्वारंटीन सेंटर में चाय-कॉफी की मशीन भी लगाई गई है। साथ ही निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं। ग्रामीणों द्वारा क्वारंटीन सेंटर में रहने वाले लोगों को भोजन भी उपलब्ध कराया जा रहा है।

मदोला गांव के लोगों द्वारा बनाए गए इस क्वारंटीन सेंटर की हर कोई सराहना कर रहा है। प्रशासन ने भी ग्रामीणों की इस पहल का स्वागत किया है।

रुद्रप्रयाग के जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने स्वयं के संसाधनों से तैयार किये गये इस क्वारंटीन सेंटर की सराहना करते हुए कहा कि मदोला गांव के ग्रामीणों से अन्य गांवों के लोगों को भी सीख लेने की जरूरत है।

अगस्त्यमुनि विकासखंड के ज्येष्ठ प्रमुख सुभाष नेगी ने बताया कि ग्रामीणों के सहयोग से यह क्वारंटीन सेंटर तैयार किया गया है, फिलहाल यहां छह लोग रहे हैं, जैसे-जैसे अन्य लोग यहां पहुंचेंगे, उन्हें इसी सेंटर में क्वारंटीन किया जायेगा। ग्रामीणों का कहना है कि बाहरी प्रदेशों से जो भी भाई-बहन यहां पहुंचेंगे, उन्हें किसी भी तरह की असुविधा नहीं होने दी जाएगी। ग्रामीणों का कहना है कि जो भी दिक्कतें क्वारंटाइन सेंटर में रहने वाले लोगों को होंगी, उन्हे शीघ्र ही दूर किया जायेगा। गौरतलब है कि कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए इन दिनों देश विदेश से बड़ी संख्या में प्रवासी उत्तराखंड आ रहे हैं। बाहर से आ रहे लोगों के लिए स्कूलों, पंचायत भवनों आदि में क्वारंटीन सेंटर बनाए गए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.