Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

कोरोना वायरस के खतरे के कारण बाबा रामदेव ने खेली फूलों की होली

जहां एक तरफ दुनियाभर में फैले कोरोना वायरस के खतरे के कारण इस बार लोग होली खेलने से परेहज कर रहे है। ऐसे में कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए योग गुरू बाबा रामदेव ने फूलों की होली खेली। इस दौरान रामदेव ने सात्विक और प्राकृतिक ढंग से होली मनाने का संदेश भी दिया।

होली के अवसर पर बाबा रामदेव आश्रम में लोगों के साथ फूलों की होली खेली। होली के मौके पर बाबा रामदेव ने कहा कि उन्होंने हुड़दंग से दूर भारतीय संस्कृति और परंपरा के अनुरूप गुलाब के फूलों की होली खेली। बाबा रामदेव ने कहा कि होली प्रेम, प्यार और सद्भाव का पर्व है।

हरिद्वार में होली के अवसर पर बाबा रामदेव ने कही होली का त्योहार पर सब एक-दूसरे को गले लगाकर नफरत की दीवार को तोड़ें और मजहबी उन्माद और आतंकवाद जैसी बुराइयों को होली के रंग से दूर कर देश को आगे बढ़ाएं। रामदेव ने गुलाब के फूलों के साथ होली खेलकर देशभर के लोगों को संदेश दिया कि वो केमिकल युक्त रंग व गुलाल की बजाय प्राकृतिक रंगों के साथ होली खेलें। उन्होंने कहा कि अनजान व्यक्तियों और विदेशियों से दूर रहें।

बता दें कि कोरोना वायरस के खतरे को ध्यान में रखते हुए बाबा रामदेव और उनके अनुयायियों ने फूलों की होली खेली। बाबा रामदेव ने लोगों से अपील की कि भारतीय संस्कृति और परंपरा के अनुरूप गुलाब के फूलों से होली खेलें, इससे किसी भी प्रकार के वायरस का खतरा नहीं होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.