Uttar Pradesh , Uttarakhand News | उत्तर प्रदेश , उत्तराखंड की ताजा खबरें

नाबालिग से दुष्‍कर्म के बाद हत्‍या के विरोध में फूंका भाजपा सरकार का पुतला

देहरादून: जनपद हरिद्वार के ऋषिकुल कॉलोनी में नाबालिग बच्ची के साथ हुए दुष्‍कर्म व हत्या की घटना के विरोध में कांग्रेसजनों ने महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा के नेतृत्व में भाजपा सरकार का पुतला दहन किया। इस दौरान कायकर्ताओं ने कहा कि भाजपा शासित प्रदेशों में महिलाओं पर बढ़ रहे अत्याचार से पूरा देश कलंकित हुआ है। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं का नारा देने वाली भाजपा सरकार इस तरह के गंभीर मामलों पर कार्रवाई नहीं कर रही है।

कहा कि जितनी जोर-शोर से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं का नारा बुलंद किया जा रहा है उसी गति से महिलाओं के प्रति अपराध बढ़ रहे हैं। हरिद्वार जनपद के ऋषिकुल में नाबालिग बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म के बाद हत्या जैसे जघन्य अपराध की घटना हैं ने मानवजाति को कलंकित करने का कार्य किया है। कहा कि निर्भया फंड जो कांग्रेस सरकार में महिलाओं की सुरक्षा के लिए गठित किया गया, लेकिन सात साल बीतने के बावजूद भी इस फंड का दो फीसद से भी कम पैसा महिला सुरक्षा के कामों में खर्च किया गया है। इस फंड का मुख्य उद्देश्य था कि महिला सुरक्षा की दिशा में कदम उठाते हुए महिला थानों की स्थापना, सड़कों पर सीसीटीवी, अंधेरी गलियों में उचित प्रकाश की व्यवस्था करना, शोषित और पीड़ित महिलाओं पुर्नवास करना और मुफ्त विधिक सलाह उपलब्ध कराना। लेकिन इसके बाद भी महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध चिंता का विषय है। महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा ने सरकार से मांग की है कि हरिद्वार में घटी घटना के पीड़ित परिवार को उचित मुआवजा दिया जाय और दोषियों की शीघ्र गिरफ्तारी कर कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाए।
इस दौरान प्रदेश महामंत्री नवीन जोशी, गोदावरी थापली, महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा, नेताप्रतिपक्ष नगर निगम विजेंद्र पाल, प्रतिमा सिंह, प्रदेश सचिव शांति रावत, मंजुला तोमर, सोमप्रकाश वाल्मीकि, पार्षद अर्जुन सोनकर, देविका रानी, शिवकुमार, कोमल बोरा, रीता रानी, मुकेश सोनकर, नागेश रतूड़ी, अमित भंडारी, अनिल थापा, प्रकाश नेगी, शोभाराम, कैलाश अग्रवाल, शिवम गुप्ता, सुरेन्द्र सिंह रावत आदि मौजूद रहे। वहीं, नाबालिग बच्ची के साथ हुए दुष्‍कर्म व हत्या की घटना के विरोध में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह शुक्रवार को हरिद्वार सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय के बाहर धरना देंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.