Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें
Browsing Category

विचार

उत्तराखंड | एक WhatsApp मैसेज से होगा पुलिसकर्मियों की समस्याओं का समाधान

पुलिस जन समाधान समिति द्वारा प्रदेश के समस्त राजपत्रित अधिकारी (निरीक्षक से आरक्षी तक) के कल्याण और मानवीय आधार पर स्थानांतरण चाहने वाले इच्छुक कर्मचारियों के प्रार्थना पत्र एवं विभागीय एवं व्यक्तिगत समस्याओं के लिए प्रार्थना पत्र ऑनलाइन…

हाथरस गैंगरेप: इंडिया गेट के पास भीड़ इकट्ठा होने पर रोक, धारा 144 लागू

दिल्ली के इंडिया गेट (India Gate) और उसके आसपास के इलाके में आज सभी तरह की सभाओं (Public Gathering) पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। पुलिस (Police) ने गरुवार को यह जानकारी दी। हालांकि अधिकारियों की परमिशन के बाद इंडिया गेट से 3 किमी दूर जंतर…

सिसौली में गन्ना किसान आत्महत्या प्रकरण: गन्ना मंत्री इस्तीफा दें- चौधरी पुष्पेन्द्र सिंह

किसानों की राजधानी, भारतीय किसान यूनियन के गढ़ और टिकैत परिवार के गाँव सिसौली, जनपद मुज़फ्फरनगर के एक गन्ना किसान की आत्महत्या का प्रकरण शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। ज्ञात हो कि गत 4 जून को गन्ने की पर्ची ना मिलने और खेत में गन्ना बाकी…

जानिए! क्या है इन दिनों देशभर में लगा महामारी एक्ट

आज कल रोज सुनने में आ रहा है कि सरकार ने महामारी कानून लागू कर रखा हैI रोज नियमों को तोड़ने वालों के खिलाफ महामारी एक्ट के अनुसार कार्यवाही हो रही है। उन पर इस एक्ट के तहत मुक़दमे दर्ज हो रहे हैंI आखिर ये महामारी एक्ट है क्या (The epidemic…

कोरोना के साथ जीना सीखना होगा: रमेश भट्ट

- रमेश भट्ट, वरिष्ठ पत्रकार और मीडिया सलाहकार  कोरोना संक्रमण का कठिन समय हमारे लिए अपार अवसर भी लेकर आया है। कोरोना से निपटने में केंद्र सरकार ने समय रहते उचित कदम उठाए। सभी राज्य सरकारों ने भी कोरोना से निपटने के लिए अपनी जान झोंक दी है।…

छोटी कोशिशों से ‘बड़ी’ उम्मीदों को पंख लगाता एक कलेक्टर…

योगेश भट्ट (वरिष्ठ पत्रकार) हमारे सिस्टम में तीन पदों की बड़ी अहमियत है, पीएम, सीएम और डीएम। किसी भी जिले में डीएम यानी कलेक्टर जिसे जिलाधीश भी कहते हैं और जिलाधिकारी भी, कुछ राज्यों में इसे उपायुक्त भी कहा जाता है। कहते हैं कि कलेक्टर को…

गांव, गरीब, किसान को कोरोना संकट से उबारने के लिए किसान शक्ति संघ के 20 सुझाव

चौ.पुष्पेन्द्र सिंह सारे विश्व को कोरोना महामारी के संकट ने घेर लिया है। इस संकट का सामना करने के लिए हमें सबसे पहले सभी देशवासियों की खाद्य सुरक्षा और भोजन की उपलब्धता सुनिश्चित करनी होगी। इसके लिए ग्रामीण भारत को मजबूत करना अति आवश्यक…

महामारी कोरोना वायरस के सामने विश्व की महाशक्तियों का आत्मसमर्पण

अजित सिंह राठी  एक कहानी में पढ़ा था कि मनुष्य परिस्थितियों का दास होता है, कैसे होता है आज देख भी लिया। तमाम वो मुल्क़ जो अपनी सैन्य शक्ति और वैज्ञानिक प्रयोग के बल पर सुपर पावर बन गए, वो मुल्क़ जो दुनिया का सिकंदर बनने का ख़्वाब पूरा…

प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन के चलते गरीबों को हो रही दिक्कतों के लिए मांगी क्षमा

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को ‘मन की बात’ कार्यक्रम के माध्यम से कोरोना वायरस से निपटने के लिए देशभर में लगाए गए लॉकडाउन से लोगों खासकर गरीबोंं को हो रही दिक्कतों के लिए क्षमा मांगी। उन्होंने कहा कि सबकी सुरक्षा के लिए…

इंतज़ार पूरा, अभी बहुत कुछ अधूरा

अजित सिंह राठी की कलम से  देहरादून से ढाई सौ किलोमीटर से भी ज्यादा दूर अपने हक़ में कोई फैसला होने के इंतज़ार में गैरसैण की आँखे भी पथरा सी गयी थी, लेकिन अब शायद गैरसैंण “ग़ैर” ना रहे। शायद अब पलायन रुके और भूतिया गांव आबाद हो। इस राज्य ने…