Uttar Pradesh , Uttarakhand News | उत्तर प्रदेश , उत्तराखंड की ताजा खबरें

भगत की आपत्तिजनक टिप्पणी के कारण मैदान से पहाड़ तक गुस्साए कांग्रेसी

नैनीताल: मंगलवार को भीमताल में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत की नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश पर टिप्पणी को लेकर बवाल मचा हुआ है। बुधवार को कांग्रेसियों ने मैदान से लेकर पहाड़ तक बंशीधर भगत का पुतला फूंककर प्रदर्शन किया। कांग्रेसियों का कहना है कि जिम्मेदार पद पर रहते हुए भगत का महिलाओं के प्रति यह बयान शर्मनाक है। यह बयान महिलाओं के प्रति उनकी सोच को भी दर्शाता है। राजनीति में शब्दों की मर्यादा व गरिमा होनी चाहिए। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने भी इस बयान पर खेद जताया है। जबकि भगत ने अब तक इस बयान पर कोई खेद तक नहीं जताया है। ऊधमसिंहनगर, नैनीताल, अल्मोड़ा, बागेश्वर में कांग्रेसियों ने विरोध-प्रदर्शन कर भगत का पुतला फूंका।

नैनीताल में नगर अध्यक्ष अनुपम कबडवाल व पूर्व विधायक सरिता आर्या के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ता तल्लीताल डांट पर एकत्रित हुए। जहां कार्यकर्ताओं ने बंशीधर भगत का पुतला दहन कर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। सरिता आर्य ने कहा कि भगत का न सिर्फ अमर्यादित है, बल्कि यह उनकी महिलाओं के प्रति संकीर्ण मानसिकता को भी दर्शाता है।

उधर, रामनगर में नेता प्रतिपक्ष इंद्रा ह्रदयेश पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत द्वारा की गई टिप्पणी से आक्रोशित कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लहनपुर चुंगी में प्रदर्शन किया। नारेबाजी के दौरान उन्होंने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष का पुतला जलाया। ब्लाक प्रमुख संजय नेगी के नेतृत्व में युवक कांग्रेस व एनएसयूआई कार्यकताओं लखनपुर चुंगी पहुंचे। उन्होंने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ नारे लगाए।

ऐसी ही कांग्रेसियों ने बिन्दुखत्ता शहीद स्मारक पर प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेसियों ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ नारेबाजी करते हुए उनका पुतला दहन किया। वीडियो वायरल होने के बाद पूरे प्रदेश के कांग्रेसियों में आक्रोश फैल गया। बुधवार को बिन्दुखत्ता ब्लॉक अध्यक्ष प्रमोद कॉलोनी के नेतृत्व में दर्जनों कांग्रेसी शहीद स्मारक का रोड में पहुंच गए। इस दौरान पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल ने कहा कि बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ का नारा लगाने वाली भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महिलाओं के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी करना शर्मनाक हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.