Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

लाकडाउन खत्म होने के बाद ‘नियंत्रण’ की रणनीति पर मुख्यमंत्री ने की अधिकारियों से मंत्रणा

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने 14 अप्रैल को देशव्यापी लाकडाउन खत्म होने के बाद प्रदेश में स्थितियों के नियंत्रण को लेकर वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मंत्रणा की. बीते रोज मुख्यमंत्री आवास में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को लाकडाउन खुलने की स्थिति में भीड़ को रोकने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित कराने के लिए कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए. मुख्यमंत्री ने कहा कि, लाकडाउन खुलने के बाद भी कैसे स्थिति को नियंत्रण में रखा जाए इसे लेकर विस्तृत कार्ययोजना बनाने की जरूरत है. उन्होंने स्थितियों पर नियंत्रण के लिए धर्मगुरूओ और समाज के प्रबुद्धजनों का सहयोग लिए जाने के भी निर्देश दिए. साथ ही कोरोना वायरस से बचाव कार्यों में सहयोग न करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के भी निर्देश भी मुख्यमंत्री ने दिए. मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सोशल मीडिया के जरिये आम जनता से भी इस संबंध में सुझाव आमंत्रित कर चुके हैं. बैठक में मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश,  डीजीपी अनिल कुमार रतूड़ी, सचिव अमित नेगी,  सचिव नितेश झा व एडीजी वी विनय कुमार उपस्थित थे.

कोरोना से निपटने के लिए एसडीआरएफ मद से 85 करोड़ रुपये जारी

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के निर्देश पर कोरोना वायरस से निपटने के लिए एसडीआरएफ मद से 85 करोड़ रूपए जारी किए गए हैं. इस राशि में से 55 करोड़ रूपए कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव की तैयारियों के लिए तथा 20 करोड़ रूपए चिकित्सा शिक्षा विभाग को कोरोना नोटिफाईड अस्पतालों के सुदृढ़ीकरण और आवश्यक उपकरणों की व्यवस्था के लिए दिए गए हैं. 10 करोड़ रुपये उत्तराखंड परिवहन निगम को कर्मचारियों के वेतन व अन्य व्ययों की प्रतिपूर्ति आदि के लिए जारी किए गए हैं.

जंगल के रास्ते छिपकर देहरादून आ रहे सात जमातियों को किया कोरेंटाइन

देहरादून पुलिस ने बेहट से लौट रहे सात जमातियों को डोईवाल के पास पकड़ कर कोरेंटाइन सेंटर भेज दिया है. ये सातों, जंगल के रास्ते देहरादून की सीमा में पहुंचे थे. पुलिस को खुफिया विभाग से खबर मिली कि जमातियों की एक टोली जंगल के रास्ते आ रही है, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया. इन सभी को मेडिकल चैकअप के बाद सुद्दोवाला स्थित एक इंस्टीट्यूट में कोरेंटाइन कर दिया गया है. जानकारी के मुताबिक ये जमाती 11 मार्च को सहारनपुर के बेहट में जमात में भाग लेने गए थे. जमातियों को पकड़ने वाली पुलिस टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की गई है. दिल्ली स्थित निजामुद्दीन मरकज में जमातियों में कोरोना पाजिटिव आने के बाद से पुलिस और खुफिया विभाग बेहद सतर्क है. पुलिस लगातार जमातियों से खुद आगे आकर महामारी रोकने में सहयोग करने की अपील कर रही है. साथ ही खुद को छिपाने वाले जमातियों पर एफआईआर दर्ज करने के आदेश भी दिए गए हैं. देहरादून पुलिस ने निजामुद्दीन मरकज से लौटे 31 जमातियों को बुधवार रात कोरेंटाइन किया था जिनमें से पांच जमातियों की कोरोना जांच पाजिटिव पाई गई थी. इसके बाद भगतसिंह कालोनी और कारगी क्षेत्र को पूरी तरह कोरेंटाइन कर दिया है.

उत्तराखंड में कोरोना के चार और मामले सामने आए, संक्रमित मरीजों की संख्या पहुंची 26

प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 26 पहुंच गई है. आज चार और लोगों के सेंपल पाजिटिव आए है. इनमें से तीन मामले देहरादून और एक नैनीताल जिले का है. प्रदेश की डीजी डाक्टर अमिता उप्रेती ने चार मरीजों में कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि की है.

देहरादून में पाजिटिव पाए गए तीनों मरीज हाल ही में जमात में शामिल होकर लौटे थे. बीते चार दिन के भीतर प्रदेश में कोरोना संक्रमितों के 19 मामले सामने आए हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.