Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

उत्तराखंड लाकडाउन अपडेट : उत्तराखंड सरकार द्वारा लिए गए जरूरी निर्णय

प्रदेश में राशन की दुकानों पर मिलेगा जरूरी सामान, जरूरतमंदो को मिलेगी होम डिलीवरी

प्रदेश में सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों पर अब गेहूं, चावल के साथ ही अन्य सभी जरूरी सामान भी मिलेगा. प्रदेश सरकार ने राशन की दुकानों पर सैनिटाइजर, मास्क, साबुन, टूथपेस्ट, तेल, नमक, चाय पत्ती, ओआरएस, सेनेटरी नैपकिन जैसी रोजमर्रा की जरूरी वस्तुएं बेचने की छूट दी है. साथ ही बुजुर्ग एवं असहाय व्यक्तियों के लिए होम डिलीवरी किए जाने का भी निर्णय लिया गया है. गुरुवार को शासन ने सभी जिलाधिकारियों को इस संबंध में आदेश जारी किए. सस्ते गल्ले की दुकानों पर आवश्यक वस्तुओं की बिक्री सुनिश्चित करने के लिए एसडीएम स्तर के अधिकारी को नोडल अफसर नामित किया जाएगा. प्रदेश में कुल 9200 सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानें हैं.

लाकडाउन में छूट की समय अवधि बढ़ाई गई.

प्रदेश सरकार ने लाकडाउन के दौरान राशन की दुकानों के खुले रहने की समय सीमा बढाते हुए सुबह सात से दिन एक बजे तक कर दी है. लोगों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए सरकार ने यह निर्णय लिया. इस दौरान केवल एक ही व्यक्ति के बैठने की शर्त के साथ दुपहिया वाहन के इस्तेमाल की भी छूट दी गई है. निजी चौपहिया वाहनों की आवाजाही पहले की तरह प्रतिबंधित प्रतिबंधित रहेगी. देहरादून स्थित निरंजनपुर सब्जी मंडी अब देर रात दो बजे से सुबह पांच बजे तक खुली रहेगी. सुबह सात बजे मंडी के गेट बंद कर दिए जांएगे.

दून मेडिकल कालेज पूरी तरह कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए अरक्षित

राज्य सरकार ने देहरादून स्थित दून मेडिकल कालेज अस्पताल को अब पूरी तरह कोरोना वायरस से संक्रमित, और संदिग्ध मरीजों के लिए अरक्षित कर दिया है. सरकार ने अन्य मरीजों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह अहम निर्णय लिया है.

 

सरकार रोजाना बांटेगी 100 फूंड पैकेट

देशव्यापी लाकडाउन के चलते जरूरतमंदों के भोजन की व्यवस्था के क्रम में  प्रदेश सरकार रोजाना 1000 फूंड पैकेट बांटेगी. सरकार महिलाओं और रोजमर्रा के कामों से आजीविका कमाने वाले लोगों तक इन फूंड पैकेट्स को पहुंचाएगी. कई स्वयंसेवी संगठन भी लोगों तक फूंड पैकेट पहुंचा रहे हैं.

राज्य से बाहर फंसे प्रदेशवासियों की मदद के लिए 50 लाख रुपये जारी

राज्य सरकार ने दिल्ली समेत दूसरे राज्यों में फंसे उत्तराखंड के लोगों की मदद के लिए पचास लाख रुपए की राशि जारी की है. इस संबंध में अपर स्थानीय आयुक्त को दिशा निर्देश देते हुए जरूरतमंद लोगों के भोजन, ठहरने और घर वापसी के इंतजाम करने के लिए कहा गया है. सरकार ने लाकडाउन के दौरान एक और हेल्पलाइन नंबर 1070 जारी किया है.

मुख्यमंत्री लगातार कर रहे समीक्षा

लाकडाउन के चलते व्यवस्थाएं दुरुस्त रहें, इसके लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत लगातार समीक्षा कर रहे हैं. उन्होंने लाकडाउन का कड़ाई से पालन कराने के साथ ही लोगों तक सभी आवश्यक वस्तुओं की पूर्ति सुनिश्चित कराने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री ने प्रदेश की सभी 13 जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम वार्ता की है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.