Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

रेप और मर्डर केस: हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी में दून पुलिस

मासूम बच्ची के साथ बलात्कार करने के बाद पीड़़ित और उसकी छोटी बहन की हत्या के आरोपी को बरी किए जाने के नैनीताल हाईकोर्ट के फैसले को  दूून पुलिस अब सुप्रीम कोर्ट में चेलेंज करने जा रही है। इसके लिए पुलिस को शासन ने अनुमति दे दी है। अब दून पुलिस सुप्रीमकोर्ट में जल्द एस एल पी दाखिल करने जा रही है। साल 2017 में ऋषिकेश में एक दिल दहलाने वाली वारदात सामने आई थी, जिसमें 9 साल की मासूम के साथ बलात्कार के बाद उसको और उसकी 6 साल की छोटी मासूम बहिन की निर्मम हत्या कर दी गयी थी।

पुलिस ने अपनी जांच में दोषी पाते हुए गुरूद्वारे के सेवादार परवान सिंह को 14 गवाहों और डीएनए रिपोर्ट के आधार पर कोर्ट में पेश किया था। इस मामले में साक्ष्यों के तहत दून की पोक्सो      कोर्ट ने सेवादार को दोषी पाया और 24 अगस्त 2018 को फांसी की सजा सुनाई थी। फोक्सो कोर्ट के इस फैसले को चेलेंज करते हुए सेवादार परवान सिंह ने  हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की,  जिसपर हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हुए सेवादार को दोषी न पाते हुए बरी कर दिया। इस  मामले में अब दून पुलिस सुप्रीम कोर्ट में एस एल पी दर्ज करने जा रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.