Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

कोरोना प्रोटोकॉल का पालन, घर पर ही की वट सावित्री की पूजा

देहरादून:  वट सावित्री व्रत के मौके पर पूरे प्रदेश में महिलाएं सुबह से ही मंदिरों और वट वृक्ष की पूजा कर परिवार के सुख शांति के साथ-साथ पति की दीर्घायु की कामना की। पारंपरिक वेशभूषा में महिलाएं सजधज कर वट वृक्ष के नीचे विधि-विधान के साथ पूजा-अर्चना कर पति की लंबी उम्र की कामना की।

साथ ही महिलाएं वट वृक्ष के नीचे बैठ कर सत्यवान और सावित्री की कथा को भी सुना। मान्यता के अनुसार वट वृक्ष में भगवान ब्रह्मा, विष्णु और महेश का वास होता है। जो सुहागिन महिलाएं वट सावित्री के मौके पर विधि-विधान के साथ वट वृक्ष की पूजा करती हैं। कलावा और सूत लपेटती हैं, उनकत सभी मनोवांछित इच्छा पूरी होती है।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार जो पत्नी इस व्रत को सच्ची श्रद्धा के साथ रखती है उसे न केवल पुण्य की प्राप्ति होती है, बल्कि उनके पति के सभी कष्ट भी दूर हो जाते हैं। ऋषिकेश में वट अमावस्या व्रत के अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने आस्था पथ स्थित वट वृक्ष के नीचे पत्नी शशि प्रभा अग्रवाल के साथ पूजा-अर्चना की। प्रेम चंद अग्रवाल ने सभी सुहागिन महिलाओं को अखंड सौभाग्यवती की शुभकामनाएं भी दीं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.