Uttar Pradesh , Uttarakhand News | उत्तर प्रदेश , उत्तराखंड की ताजा खबरें

दक्षिण अफ्रीका से इलाज के लिए हल्द्वानी पहुंचा हसर्ट फ्रांसिस, पढ़िए पूरी रिपोर्ट

पवन सिंह कुँवर, हल्द्वानी: डॉ पीएस भंडारी से ब्रैकल प्लेक्सैस सर्जरी कराने के लिए दक्षिण अफ्रीका से हल्द्वानी पहुंचे फ्रांसिस। आपको बता दें कि Brachial plexus injury सड़क दुर्घटना के कारण होती है। खासकर मोटरसाइकिल दुर्घटना में होती है। जिसमें गर्दनों की नसों से खींचने या टूटने से हाथ हिलाना डुलाना बंद हो जाता है। यह सर्जरी बहुत जटिल होती है जिसमें बारिक नसों को माइक्रोस्कोप के अंदर देखकर जोड़ा जाता है। इस ऑपरेशन में 8 से 10 घंटे लग जाते है। कुछ साल पहले तक इसका कोई इलाज नहीं था।उत्तराखंड कुमाऊं के लिए अच्छी खबर यह है कि कुमाऊं उत्तराखंड का नियंत्रक प्रगतिशील संपूर्ण अस्पताल बृजलाल हॉस्पिटल हल्द्वानी देश का एक प्रमुख प्लेक्सैस सर्जरी केंद्र बन गया है। जिसमें मरीज दूरदराज के राज्यों सहित विदेशों से आकर अपना इलाज करवा रहे है।

हसर्ट फ्रांसिस दक्षिण अमेरिका के बरामदे के रहने वाले है। उन्होंने इंटरनेट के माध्यम से बृजलाल हॉस्पिटल के डॉक्टर पीएस भंडारी से संपर्क किया और मेडिकल वीजा बनाकर इलाज के लिए अपनी पत्नी के साथ हिन्दुस्तान के उत्तराखंड के शहर हल्द्वानी के बृजलाल अस्पताल में इलाज करवाने आए। हसर्ट
फ्रांसिस ने हिन्दुस्तान आने से पहले देश विदेशों में संपर्क किया फ्रांसिस ने निर्णय लिया कि मैं हिन्दुस्तान जाकर ऑपरेशन कराऊंगा। बहुत लंबा सफर तय करके वो हल्द्वानी पहुंचे। दक्षिण अफ्रीका के वोटसवाना से फ्लाइट से 2 दिन का सफर कर दिल्ली पहुंचे।दिल्ली से टैक्सी करके 16 दिसंबर को हल्द्वानी पहुंचे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.