Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने संवाद के लिए ‘कोविड इंडिया सेवा’ प्लेटफॉर्म का किया शुभारंभ

‘कोविड इंडिया सेवा’ का उद्देश्‍य वास्तविक समय में पारदर्शी ई-गवर्नेंस डिलीवरी को सक्षम बनाना और विशेष रूप से कोविड-19 महामारी जैसी मौजूदा संकटपूर्ण परिस्थितियों में बड़ी तेजी से नागरिकों के अनगिनत प्रश्नों का जवाब देना है। इसके जरिए लोग @CovidIndiaSeva पर सवाल कर सकते हैं और उन्हें लगभग वास्तविक समय में जवाब मिल जाया करेगा।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने एक ट्वीट के साथ विशेष एकाउंट @CovidIndiaSeva की घोषणा की।

‘कोविड इंडिया सेवा’ की घोषणा पर टिप्पणी करते हुए डॉ. हर्षवर्धन ने कहा, ‘समय के साथ ट्विटर विशेषकर जरूरत के समय में आपस में संवाद करने और सूचनाओं का आदान-प्रदान करने हेतु सरकार और नागरिकों दोनों ही के लिए एक आवश्यक सेवा साबित हुआ है। सामाजिक दूरी के साथ #IndiaFightsCorona रूप में हम ट्विटर सेवा सॉल्‍यूशन अपनाकर एक ठोस ऑनलाइन प्रयास करके काफी प्रसन्‍न हैं। यह हमारे छोर पर विशेषज्ञों की एक टीम द्वारा संचालित किया जाता है जो बड़े पैमाने पर प्रत्येक सवाल का विशिष्ट जवाब देने के लिए पूरी तरह से प्रशिक्षित और माहिर हैं। यह हमें भारतीय नागरिकों के साथ एक सीधा चैनल स्थापित करने में सक्षम करेगा, जो आधिकारिक स्वास्थ्य एवं सार्वजनिक जानकारियां प्रदान करने के लिए वास्तविक समय में उनके साथ जुड़ेंगे।’

यह विशेष एकाउंट लोगों के लिए सुलभ होगा, चाहे उनका दायरा स्थानीय हो या राष्ट्रीय। चाहे सरकार द्वारा किए गए विभिन्‍न उपायों पर नवीनतम अपडेट प्राप्‍त करना हो, स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंच के बारे में जानना हो अथवा किसी ऐसे व्यक्ति के लिए मार्गदर्शन प्राप्त करना हो जिसमें संभवतः रोग के लक्षण हैं, लेकिन वह इस बात के बारे में अनिश्चित है कि मदद के लिए कहां जाएं, तो वैसी स्थिति में @CovidIndiaSeva लोगों को अधिकारियों तक पहुंचने के लिए सशक्त बनाएगी। लोग @CovidIndiaSeva पर ट्वीट करके अपने प्रश्नों का उत्तर पा सकते हैं।

चूंकि ये जवाब पारदर्शी और सार्वजनिक होंगे, इसलिए एक जैसे प्रश्नों के उत्‍तर से सभी लोग लाभ उठा सकते हैं। उल्‍लेखनीय है कि मंत्रालय व्यापक प्रश्नों का जवाब देगा और इसके साथ ही सार्वजनिक स्वास्थ्य के बारे में जानकारी देगा। इसके तहत जनता को निजी संपर्क ब्‍यौरा या स्वास्थ्य रिकॉर्ड के विवरण को साझा करने की आवश्यकता नहीं है।

इस संवादात्‍मक प्लेटफॉर्म को लॉन्च करने पर ट्विटर की सार्वजनिक नीति निदेशक (भारत और दक्षिण एशिया) महिमा कौल ने कहा, ‘हम सरकार द्वारा नागरिकों के साथ संवाद करने और जनता को एक-दूसरे से जुड़े रहने के लिए एक आवश्यक सेवा के रूप में अपनी भूमिका को बखूबी समझते हैं। सामाजिक दूरी के साथ #IndiaFightsCorona रूप में हम भारत सरकार के साथ काम करने के लिए प्रतिबद्ध हैं क्योंकि वे बड़े पैमाने पर जनता से जुड़ने के लिए सोशल मीडिया के प्रभाव का उपयोग करते हैं।’

पिछले तीन महीनों में मंत्रालय ने कोरोना के खिलाफ युद्ध में कई पहल की हैं जिनमें एक संचार रणनीति का हिस्सा भी शामिल है। इसमें यात्रा एवं स्वास्थ्य संबंधी विशेष एडवाइजरी  और सरकारों, अस्पतालों, नागरिकों, विभिन्न स्वास्थ्य कर्मि‍यों, कर्मचारियों एवं विभिन्न अन्य ज्ञान संसाधनों के लिए सार्वजनिक तथा निजी क्षेत्रों में विभिन्न हितधारकों के लिए अलग-अलग दिशा-निर्देश/मानक संचालन प्रक्रियाएं/प्रोटोकॉल शामिल हैं।

प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया जैसे संचार के विभिन्न चैनलों को एक समग्र जागरूकता अभियान के हिस्से के रूप में तैनात किया गया है। इन्‍हीं सहयोगी प्रयासों का यह परिणाम है कि आज वायरस से बचने के लिए सामाजिक दूरी बनाए रखने, बार-बार हाथ धोने और श्वसन से जुड़े बुनियादी उपायों के बारे में लोगों के बीच व्यापक जागरूकता है। इतना ही नहीं, यह प्रयास सरकार की रोकथाम और नियंत्रणकारी उपायों में समुदाय के विभिन्न वर्गों की भागीदारी सुनिश्चित करने में भी सफल रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.