Uttar Pradesh , Uttarakhand News | उत्तर प्रदेश , उत्तराखंड की ताजा खबरें

भारतीय खिलाड़ी नहीं मानते कोरोना प्रोटोकॉल !

भारतीय खिलाड़ी नहीं मानते कोरोना प्रोटोकॉल

मेलबर्न के रेस्त्रां में भारतीय खिलाड़ियों के कोरोना प्रोटोकॉल उल्लंघन का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। अभी पांच भारतीय क्रिकेटर्स को आइसोलेशन में भेजा ही गया था कि ऑस्ट्रेलिया के ब्रॉडकास्टर्स फॉक्स क्रिकेट की ओर से एक तस्वीर शेयर की गई है जिसमें ये बताने की कोशिश की जा रही है कि भारतीय खिलाड़ी पहले भी कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ा चुके हैं। इस पुरानी फोटो में भारतीय कप्तान विराट कोहली और स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या किसी विदेशी महिला फैन के साथ तस्वीर क्लिक करवाते नजर आ रहे हैं।

तस्वीर तीसरे टी-20 के ठीक एक दिन पहले  बेबी विलेज  नाम की दुकान की इंस्टाग्राम प्रोफाइल पर भी शेयर की गई थी। जब भारतीय कप्तान कोहली अपने साथी हार्दिक पांड्या के साथ सिडनी में बच्चों का सामान बेचने वाली इस दुकान पर पहुंचे थे।

दोनो क्रिकेटर्स को लगाना चाहिए था मास्क

विराट के कंधे पर एक बड़ा सा बैग भी नजर आ रहा है, संभवत: जिसके भीतर उनके द्वारा खरीदी चीजें रखी हो। ‘द सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड’ और ‘द एज’ जैसे ऑस्ट्रेलियाई मीडिया के हवाले से लिखा गया कि ‘मेहमानों’ ने प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया, दोनों क्रिकेटर्स को मास्क लगाना चाहिए था।

पहले भी भारतीय खिलाड़ी कर चुके हैं प्रोटोकॉल का उल्लंघन

ठीक इसी तरह एडिलेड में भी भारतीय खिलाड़ियों ने नियमों की धज्जियां उड़ाई थी। ‘हेराल्ड’ के अनुसार तब कुछ भारतीय खिलाड़ी अंदर गए अपने दो साथियों का बाहर इंतजार कर रहे थे, जो कैफे के भीतर बिना मास्क लगाए ही वॉफेल और कॉफी लेने गए थे। रिपोर्ट्स की माने तो उस वक्त भी क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को प्रोटोकॉल उल्लंघन की कोई शिकायत दर्ज नहीं करवाई गई थी।

भारत ने ब्रिस्बेन जाने से किया इनकार!

सिडनी में सात तारीख से तीसरा तो 15 जनवरी से चौथा टेस्ट मैच ब्रिस्बेन में खेला जाना है। गाबा मैदान पर होने वाले इसी आखिरी मुकाबले पर ही विवाद शुरू हो चुका है। रिपोर्ट्स की माने तो टीम इंडिया ने कोविड-19 के कड़े प्रोटोकॉल की वजह से ब्रिस्बेन में टेस्ट मैच खेलने से इनकार कर दिया है। भारतीय टीम को हालांकि सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में ही दो मैच खेलने में कोई आपत्ति नहीं है।

ऑस्ट्रेलिया में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ने के कारण कई राज्यों ने फिर से यात्रा प्रतिबंध लगा दिए हैं। ब्रिस्बेन में भी बेहद कड़े नियम लागू किए गए हैं। चौथे टेस्ट के लिए वहां पहुंचने पर दोनों ही टीम के खिलाड़ियों को एकबार फिर से क्वारंटीन में रहना पड़ सकता है। ऐसी स्थिति से बचने के लिए भारतीय टीम मैनेजमेंट ने स्पष्ट कर दिया है कि वह अब अपने खिलाड़ियों को दोबारा से क्वारंटीन में नहीं भेजेगे क्योंकि यह मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी ठीक नहीं।

ऑस्ट्रेलिया आने से पहले भारतीय टीम आईपीएल के दौरान बायो बबल में थी, उससे पहले क्वारंटीन थी। ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के बाद भी सभी खिलाड़ी 14 दिन क्वारंटीन में थे। हालांकि टीम इंडिया के खिलाड़ियों को ब्रिस्बेन में क्वारंटीन के नियमों में छूट मिलेगी या नहीं इस पर स्थिति साफ नहीं है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया से ब्रिस्बेन टेस्ट को लेकर अभी तक कोई बात नहीं की है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अपने खिलाड़ियों से कहा है कि ब्रिस्बेन में उन्हें सिर्फ मैदान और होटल में ही जाने की इजाजत होगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.