Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने छोड़ा कांग्रेस का हाथ, सिंधिया के समर्थन में 22 विधायकों ने छोड़ी कांग्रेस पार्टी

कांग्रेस के असंतुष्ट नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के पार्टी से इस्तीफे की घोषणा के बाद अब 22 कांग्रेस विधायकों ने भी राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। जानकारी के मुताबिक, ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा देने के बाद  कांग्रेस विधायकों ने अपना इस्तीफा दिया है। इसमें मध्य प्रदेश के 6 राज्य मंत्री भी शामिल हैं जो फिलहाल बेंगलुरु में हैं।

बता दें कि इससे पहले कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। बीजेपी के शीर्ष नेताओं से मुलाकात के बाद सिंधिया ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को इस्तीफा भेजा। इस्तीफा पत्र पर तिथि नौ मार्च की है। इससे संकेत मिलता है कि उन्होंने अमित शाह एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने से पूर्व ही कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था।

ANI

@ANI

19 Congress MLAs including six state ministers from Madhya Pradesh who are in a Bengaluru resort have tendered their resignation from the assembly after Jyotiraditya Scindia resigned from the party. https://twitter.com/ANI/status/1237284164652548096 

View image on TwitterView image on Twitter
ANI

@ANI

19 Congress MLAs including six state ministers from Madhya Pradesh who are in Bengaluru, tender their resignation from the assembly after Jyotiraditya Scindia resigned from the party.

View image on Twitter
235 people are talking about this

सिंधिया ने अपने इस्तीफे में कहा कि अपने राज्य और देश के लोगों की सेवा करना मेरा हमेशा से मकसद रहा है। मैं इस पार्टी में रहकर अब यह करने में अक्षम में हूं। सिंधिया के बीजेपी में जाने की संभावना है। उनके कांग्रेस छोड़ने से अब मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार पर संकट गहरा गया है।

सिंधिया ने पीएम मोदी से मुलाकात के बाद दिया इस्तीफा

सिंधिया ने मंगलवार सुबह सबसे पहले गृह मंत्री अमित शाह के घर जाकर उनसे मिले और फिर शाह और सिंधिया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करने प्रधानमंत्री निवास गए। करीब एक घंटे तक चली बैठक के बाद सिंधिया और शाह एक साथ बाहर आए। इसके कुछ समय बाद सिंधिया ने ट्विटर पर कांग्रेेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजे गए अपनेे इस्तीफे को पोस्ट कर दिया। इस्तीफे पर सोमवार की तारीख अंकित है।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजे पत्र में सिंधिया ने लिखा है कि मैं पिछले 18 साल से पार्टी के प्राथमिक सदस्य थे और अब समय आ गया है कि मैं पार्टी से अलग अपनी राह लूं। मैं पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस से इस्तीफा दे रहा हूं। उन्होंने यह भी कहा कि उनका उद्देश्य एवं लक्ष्य देश एवं अपने प्रदेश के लोगों की सेवा करना है। उन्हें महसूस हो रहा है कि वह कांग्रेस के भीतर यह काम आगे नहीं बढ़ा पाएंगे।

Jyotiraditya M. Scindia

@JM_Scindia

View image on Twitter
53K people are talking about this

इस्तीफे में विगत लोकसभा चुनाव में गुना शिवपुरी सीट पर उनकी हार का दर्द भी छलक आया जिसके लिए वह कांग्रेस के प्रदेश नेतृत्व की साजिश को जिम्मेदार मानते है और यह भी संकेत दिया था कि इससे आहत हो कर वह पिछले साल से ही कांग्रेस से बाहर जाने की सोच रहे थे। सिंधिया के इस्तीफे का मध्यप्रदेश की राजनीति पर दूरगामी प्रभाव पड़ना तय है।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.