Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

उत्तराखंड में पास को लेकर दूर कर लें गलतफहमी

लॉकडाउन-4 के लागू होने के साथ ही सार्वजनिक परिवहन को शर्तों के साथ संचालन की छूट मिल गई है। अपने जिले से दूसरे जिले में जाने के लिए पास लेने को लेकर जनता में असमंजस की स्थिति है। हालांकि, राज्य से बाहर जाने के लिए पास लेना जरूरी है। परिवहन विभाग के अधिकारियों के समक्ष लोगों की परेशानी रखी गई तो उन्होंने स्पष्ट किया कि एक से दूसरे जिले में जाने पर भी पास जरूरी होगा।

सवाल: नैनीताल से पिथौरागढ़ है तो क्या करें?

जवाब:  नैनीताल जिले दूसरे जिले में जाना है तो पास अनिवार्य होगा। वाहन में सवारी भी जारी सीटिंग क्षमता के अनुसार ही होगी। उससे ज्यादा का पास नहीं बनेगा।

सवाल: निजी गाड़ी से दूसरे जिले में जाएं तब भी पास लगेगा?

जवाब: टैक्सी या निजी किसी प्रकार के वाहन से दूसरे जिले में जाएं तो भी पास चाहिए होगा। बाहरी राज्यों में जाने के लिए भी पास की जरूरत होगी।

सवाल: लॉक डाउन में ढील के बाद भी पास चाहिए?

जवाब: राज्य सरकार ने लॉकडाउन में सुबह 7 से शाम 4 बजे तक ही छूट  है। वाहन भी इसी अवधि में संचालित होंगे। शाम चार बजे से सुबह 7 बजे तक संचालन बंद रहेगा। इस अवधि में अगर जाते हैं तो पास चाहिए होगा। आवश्यक सेवा वाहन और मेडिकल इमरजेंसी वाली गाड़ियां चल सकेंगी।

सवाल: दिल्ली से आने पर क्वारंटाइन किया जाएगा?

जवाब: दिल्ली समेत किसी भी राज्य से आने पर यात्री को होम क्वारंटाइन करने की व्यवस्था है। हालांकि ये तभी संभल है जब डॉक्टर्स आपको होम क्वारंटीन करने की सलाह दें।अन्यथा आपको इंस्टीट्यूशनल क्वारंटीन होना ही पड़ेगा। उसकी मेडिकल जांच भी होगी। यदि यात्री को लाने वाला टैक्सी चालक स्थानीय है तो वह भी होम क्वारंटाइन होगा।

सवाल: राज्य के दूसरे जिले से आने पर भी क्वारंटाइन की व्यवस्था रहेगी?

जवाब: अपने जिले के बाहर आप कहीं से भी आते हैं होम क्वारंटाइन होना पड़ेगा। इसमें ऐसा नहीं होगा कि ग्रीन से ग्रीन, ग्रीन से ऑरेंज, ऑरेंज से ग्रीन वाले क्षेत्र से आए हों तो क्वारंटाइन न किया जाए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.