Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

निर्भया के दोषियों को 3 मार्च को होगी फांसी, कोर्ट ने जारी किया तीसरा डेथ वारंट

निर्भया गैंगरेप मामले के चारों दोषियों को तीन मार्च को फांसी दी जाएगी। पटियाला हाउस कोर्ट ने दोषियों के खिलाफ तीसरा डेथ वारंट जारी कर दिया है। अदालत ने चारों दोषियों मुकेश कुमार सिंह, पवन गुप्ता, विनय कुमार शर्मा और अक्षय कुमार को 3 मार्च, मंगलवार को सुबह 6 बजे फांसी देने का समय तय किया है। अदालत ने दिल्ली सरकार और निर्भया के माता-पिता की, दोषियों को नया डेथ वारंट जारी करने की मांग करने वाली की याचिकाओं पर सुनवाई के बाद यह फैसला सुनाया। डेथ वारंट जारी होने के बाद निर्भया की मां ने उम्मीद जताई है कि 3 मार्च को चारों दोषियों को फांसी दे दी जाएगी। उन्होंने कहा, ‘मैंने इतना संघर्ष किया है, अब उम्मीद है कि मेरी बेटी को इंसाफ मिलेगा।’

दूसरी तरफ दोषियों के वकील एपी सिंह का कहना है कि उनके पास अब भी कई कानूनी विकल्प बाकी हैं। उन्होंने कहा कि वे अक्षय के लिए नई दया याचिका लगाएंगे, साथ ही पवन के पास भी क्यूरेटिव पिटिशन और राष्ट्रपति के पास दया याचिका का विकल्प बचा हुआ है।

पटियाला हाउस कोर्ट ने निर्भया के दोषियों को सबसे पहले 22 जनवरी को फांसी देने का आदेश सुनाया था लेकिन 17 जनवरी के अदालत के आदेश के बाद इसे टालकर एक फरवरी सुबह छह बजे किया गया था। फांसी की तारीख से एक दिन पहले 31 जनवरी को अदालत ने अगले आदेश तक चारों दोषियों की फांसी की सजा पर रोक लगा दी थी। अब अदालत ने तीसरी बार डेथ वारंट जारी कर तीन मार्च की तारीख तय की है।

16 दिसंबर 2012 को 23 वर्षीय फीजियोथेरेपी छात्रा के साथ दिल्ली में चलती बस में छह लोगों ने गैंगरेप किया। 17 दिसंबर 2012 को मुख्य अभियुक्त और बस ड्राइवर राम सिंह को गिरफ़्तार कर लिया गया। अगले कुछ दिनों में अन्य अभियुक्तों मुकेश सिंह, विनय शर्मा, पवन गुप्ता, अक्षय कुमार सिंह और एक 17 वर्षीय नाबालिग़ को गिरफ़्तार किया गया। रामसिंह ने वर्ष 2013 में तिहाड़ जेल में आत्महत्या कर ली थी।  17 वर्षीय किशोर को तीन साल के लिए बाल सुधार गृह भेजा गया था।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.