Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

सुशीला तिवारी अस्पताल से डिस्चार्ज हुए 15 मरीज

डा0 सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय में भर्ती पंद्रह (15) और कोरोना संक्रंमित मरीजों को स्वस्थ होने पर आज दिनांक 26-05-2020 को डिस्चार्ज कर दिया गया। जिन्हें सात दिन के होम क्वारंटीन की सलाह दी गई।
विदित हो कि पूर्व में मरीजों को कोरोना संक्रंमित होने पर डा0 सुशीला तिवारी चिकित्सालय में भर्ती किये गये थे। विभिन्न क्षेत्रों के इन मरीजों को जिनको भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान परिषद नई दिल्ली व स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार की 08 मई 2020 की नयी गाईडलाइन्स के अनुसार आज मंगलवार को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज कर दिया गया।
डिस्चार्ज के समय रोगी अत्यधिक खुश थे। रोगियों द्वारा डाक्टरों व नर्सो का बहुत बहुत आभार जताया। कोरोना संक्रंमित मरीजों के स्वस्थ होने पर चिकित्सकों व अस्पताल प्रशासन ने हर्ष जताया है।
विदित हो कि पूर्व में एसटीएच में कोरोना संक्रंमित 19 मरीजों को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया जा चुका है। चिकित्सालय में अब 157 कोरोना पाॅजीटिव रोगी रह गये है। वर्तमान में कुल 34 कोरोना पाॅजीटिव रोगी स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो कर चले गये है।
इसके अतिरिक्त चिकित्सालय में कोरोना के संदिग्ध रोगी भी जाॅच व ईलाज के लिए भर्ती हो रहे है। ऐसे संदिग्ध रोगियों को कोरोना जाॅच निगेटिव आने के उपरांत होम क्वारंटीन की सलाह देते हुए डिस्चार्ज किया जा रहा है, जिनकी संख्या प्रतिदिन 10-15 हो रही है।
मेडिकल काॅलेज के प्राचार्य डा0 सी0पी0 भैसोड़ा ने कहा कि हमारे चिकित्सक व मेडिकल स्टाफ लगातार रोगियों के ईलाज में बेहतर से बेहतर सेवाएं दे रहे है जो काबिलेतारिफ है जिससे रोगी भी जल्द से जल्द ठीक हो रहे है। डा0 भैसोड़ा ने आशा जताई कि 157 रोगी भी शीघ्र स्वस्थ हो जाने पर डिस्चार्ज कर दिये जायेंगे। डिस्चार्ज के समय चिकित्सा अधीक्षक डा0 अरूण जोशी, कोविड-19 के नोडल अधिकारी डा0 परमजीत सिंह, डा0 मकरंद सिंह , डॉ विवेकानंद सत्यवली व स्टाफ नर्सेज एवं वार्डबॉय आदि लोग मौजूद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.