Uttar Pradesh , Uttarakhand News | उत्तर प्रदेश , उत्तराखंड की ताजा खबरें

हिंदी के लिए युवा ने वीकिपीडिया पर दिया अहम योगदान, युवा के जज्बे को सलाम

जोधपुर के एक युवा कारपेंटर ने अपने कारनामों से उन लोगों का मुंह बूंद कर दिया जो संसाधनों के अभाव में मंजिल नहीं मिलने की बात करते हैं। अपने स्कूल की पढ़ाई बीच में छोड़ चुके जोधपुर के राजू जांगिड़ ने विकीपीडिया पेज के लिए 1,800 आर्टिकल लिख डाले, इतना ही नहीं उन्होंने अपने मोबाइल के हिंदी वर्णमाला वाले कीपैड से विकीपीडिया पर 57,000 पेजों की एडिटिंग भी की, उनके जुनून को देखते हुए, 2016 में विकीपीडिया ने उन्हें एक लैपटॉप और फ्री इंटरनेट कनेक्शन तोहफे के रुप में दिया।

750 से ज्यादा पेज हिंदी में टाइप किये

इस युवा कारपेंटर ने फोन से 750 पेज हिंदी में टाइप कर दिये, जबकि 1130 पेज लैपटॉप से हंदी में टाइप किए हैं। कीपैड वाले फोन से आमतौर पर एक मैसेज टाइप करने में दो से चार मिनट का समय लग जाता है, लेकिन जोधपुर जिले की बालेसर तहसील के ठाडिया गांव में रहने वाले राजू जांगिड़ ने इसी फोन से 750 पेज हिंदी में टाइप कर दिये।

कीपैड वाले फोन से लिख डाले कई लेख

अपने एक इंटरव्यू में जांगिड़ ने बताया कि उन्होंने 2015 में कीपैड वाले मोबाइल से विकिपीडिया पर संपादन करना शुरू किया था, हालांकि उस दौरान ये काम करना मुश्किल था, क्योंकि एक तो मोबाइल बटन वाला था और ऊपर से उन्हें अपने फर्नीचर वाले काम में रोज 11-12 घंटे देने पड़ते थे। लेकिन बीच-बीच में थोड़ा समय मिलने पर विकिपीडिया पर कुछ न कुछ वो एडिट कर लिया करते थे।

हिंदी भाषा को बढ़ावा देने के लिए लिखे लेख

राजू ने अब तक हिंदी विकिपीडिया पर 1880 से ज्यादा नए पेज बनाए हैं और 57 हजार से ज्यादा संपादन किए हैं। राजू जांगिड ने बताया कि हिंदी विकिपीडिया पर योगदान देने का मकसद हिंदी भाषा को बढ़ावा देना है। उनके अनुसार बाकी अन्य बड़ी भाषाओं की तुलना में हिंदी के विकिपीडिया पर उतने लेख नहीं है, जितने होने चाहिए। यही कराण रहा कि उन्हें जब-जब समय मिलता वो काम करते रहते। क्योंकि हिंदी भारत में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है।

वीकिपीडिया में सबसे ज्यादा पेज अंग्रेजी भाषा में

विकिपीडिया पर अभी सबसे ज्यादा पेज अंग्रेजी भाषा में है। पूरे विश्व में 341 मिलियन लोग हिंदी भाषी हैं लेकिन हिंदी विकिपीडिया पर महज 1.4 लाख लेख ही हिंदी में हैं। इसी वजह से राजू जांगिड़ ने हिंदी विकीपीडिया पर संपादन का काम शुरू किया।राजू जांगिड़ की विकिपीडिया एडिटर बनने की कहानी लोगों को प्रेरित करने वाली है, जब राजू ने विकिपीडिया पर एडिटिंग करनी शुरू की थी उस समय उनके पास न तो स्मार्टफोन था और न ही लैपटॉप, विकिपीडिया पर योगदान देने के लिए उन्होंने कीपैड वाले मोबाइल फोन से लेख लिखने शुरू किए।

जांगिड़ ने खराब आर्थिक हालात की वजह से 10वीं के बाद ही स्कूल छोड़ दी थी और उसके बाद दूरस्थ शिक्षा से बीए पास किया बता दें कि विकिपीडिया दुनिया का सबसे बड़ा ऑनलाइन ज्ञानकोश है, जहां 300 से ज्यादा भाषाओं में पेज मिलते हैं, उन्हें करोड़ों लोग पढ़ते भी हैं।जांगिड़ ने बताया कि उन्होंने बालेसर तहसील के लगभग सभी गांवों के विकिपीडिया पेज बनाए हैं और अभी अगला लक्ष्य बचे हुए गांवों को विकिपीडिया पर लाने का है। जिससे लोगों को गांवों की जानकारी एक ही जगह मिल पाए। राजू जांगिड़ बताते हैं कि बचपन में उनका सपना क्रिकेटर बनने का था, वे बचपन से ही महेंद्र सिंह धोनी की कॉपी किया करते थे लेकिन घर की आर्थिक हालत ठीक नहीं होने के कारण ये एक सपना ही रह गया।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.