Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

देहरादून के कूड़े से राजस्थान में बनेगा सीमेंट

अब देहरादून के कूड़े से राजस्थान में बनेगा सीमेंट। जी हां, शीशमबाड़ा के सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट में जमा सैकड़ों मीट्रिक टन हमेशा के लिए आफत बन चुका कूड़ा अब देश की ताकत बनेगा। देहरादून के शीशमबाड़ा सॉलिड वेस्ट मनेजमेंट प्लांट में कूड़े से खाद्य के बाद जो भी आरडीएफ यानि रिफ्यूज ड्राइव फ्यूल बचता है, अब उससे सीमेंट बनाया जाएगा। यदि सब कुछ ठीक रहा तो यह कूड़ा राजस्थान में स्थित सीमेंट फैक्ट्री तक पहुंचेगा।

इस आरडीएफ को नगर निगम राजस्थान की सीमेंट फेक्ट्री में बेचने की योजना तैयार कर रहा है। पहले इस आरडीएफ को नगर निगम हिमाचल में बेचने जा रहा था, लेकिन इसमें गाडी की कोस्टिंग अधिक होने के चलते अब नगर निगम इसको राजस्थान में बेचने जा रहा है। जिससे नगर निगम को दोहरा लाभ मिलेगा। इससे एक तो नगर निगम की आम्दानी बढ़ेगी और दूसरा शीशमबाड़ा में लगे आरडीएफ के बड़े बड़े चट्टानों से निजात मिलेगी।

वहीं नगर आयुक्त ने बताया कि देहरादून शहर का प्रतिदिन ढाई सौ से तीन सौ टन कूड़ा शीशमबाड़ा प्लांट में जाता है। जिससे प्लांट में खाद बनायी जाती है। और हर दिन करीब 50 से 60 टन आरडीएफ बच जाता है। जिसका न कंपनी और न ही नगर निगम के पास कोई उपचार है।

इस आरडीएफ से शीशमबाड़ा में पिछले दो सालों के ढेर से स्थानीय लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जिससे निजात पाने के लिए निगम ने अब आरडीएफ को राजिस्थान की सीमेंट कम्पनी को बेचने की बातचीत की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.