Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

एसआई हरजीत सिंह को मिली छुट्टी, कटे हुए हाथ की अंगुलियों में मूवमेंट देख चिकित्सक संतुष्ट, जल्द होगी रिकवरी

पंजाब के सब इंस्पेक्टर हरजीत सिंह को पीजीआई चंडीगढ़ से गुरुवार को डिस्चार्ज कर दिया गया। पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता खुद एसआई हरजीत सिंह को पीजीआई से डिस्चार्ज कराने के लिए पहुंचे। इस दौरान उन्होंने हरजीत को बेटे अर्शप्रीत का नियुक्ति पत्र भी सौंपा।

 

बता दें कि पटियाला में सन्नौर रोड पर स्थित मंडी में ड्यूटी के दौरान एसआई हरजीत सिंह पर कुछ निहंगों ने हमला कर दिया था। निहंगों ने हरजीत सिंह का एक हाथ तलवार से काट दिया था। जिसके चलते उन्हें इलाज के लिए पीजीआई में भर्ती किया गया था। यहां डॉक्टरों ने घंटों की सर्जरी के बाद उनका हाथ जोड़ दिया था। अब उनके हाथ में मूवमेंट शुरू हो गई है, इसलिए उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है। हरजीत का इलाज कर रहे डिपार्टमेंट ऑफ प्लास्टिक सर्जरी के एडिशनल प्रो. सुनील गाबा और डॉ. जैरी ने उनकी ड्रेसिंग खोली तो हरजीत ने अपनी अंगुलियां हिलानी शुरू कर दी थीं। उनकी अंगुलियों में मूवमेंट देखकर डॉक्टर भी संतुष्ट हैं। हालांकि उन्होंने इतनी जल्दी अंगुलियों को मूव करने से रोका, लेकिन हरजीत सिंह ने बताया उन्हें ऐसा करने में जरा भी तकलीफ नहीं हो रही है। डॉक्टरों का कहना है कि अंगुलियों में ब्लड सर्कुलेशन ठीक होने की वजह से अब उनमें सेंसेशन भी आ गई है। ऑपरेशन के बाद हरजीत को तेजी से ठीक होते देखकर घरवाले भी बेहद खुश हैं।

मुख्यमंत्री ने ट्वीट करके जताया आभार

हरजीत सिंह के डिस्चार्ज होने की खबर मिलते ही मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया। इसमें उन्होंने हरजीत सिंह के डिस्चार्ज होने की जानकारी दी और पीजीआई के डॉक्टरों, नर्सों व पूरे स्टाफ का आभार जताया।

 

उन्होंने कहा कि पूरे राज्य को हरजीत सिंह पर गर्व है। एसआई का हौसला बढ़ाते हुए कैप्टन ने अपने एक साथी का तजुर्बा साझा किया, जिसने अपना हाथ गंवा लिया था। उनके साथी को भी इसी तरह की सर्जरी से गुजरना पड़ा था और वह अब पूरी तरह से ठीक हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.