Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

बर्फबारी में उत्तराखंड की इस बच्चा पार्टी ने मचाया ऐसा धमाल

  • संजय चौहान की रिपोर्ट

चमोली।। पहाड़ियों का पहाड़ जैसा हौंसला, विपरीत परिस्थितियों को भी अनुकूल बनाया। भले ही उत्तराखंड के पहाड़ों में इस साल हुई भारी बर्फबारी (snowfall) से आम जनजीवन अस्त व्यस्त हुआ है। लेकिन पहाड़ियों के हौंसलों का कोई सानी नहीं है। उत्तराखंड (Uttarakhand) के सदूरवर्ती सीमांत जनपद चमोली (Chamoli) के देवाल विकासखंड के प्राथमिक विद्यालय भराण (वाण गांव) के बच्चों नें छुट्टी के समय स्वर्गीय पप्पू कार्की के गाए गीत पर बर्फीला डांस (dance in snowfall) करते दिखे। पप्पू दा का गाया ये गीत मशहूर पहाड़ी गायक और लेखक स्व. चंद्र सिंह राही ने लिखा था। फ्वां बाघा रे गीत पर बेहतरीन बर्फीला डांस पेशकर न केवल अपनी प्रतिभा को परिचय दिया बल्कि उत्तराखंड की पहाड़ियों में रहने वाले लोगों के बुलंद हौंसलों की मिशाल पेश की है। उन्होंने दिखा दिया की विपरीत परिस्थितियों को कैसे अनुकूल बनाया जा सकता है। इन बच्चों को देखकर एक शायर की पंक्तियाँ बखूबी याद आती है कि काश लौटा दे कोई ऐसा बचपन, खरीद लूंगा बाजार में इसकी हर कीमत लगाकर। स्कूल के टीचर्स भी बच्चों की डांसिंग परफॉर्मेंस से खासे खुश हैं।

(वीडियो और रिपोर्ट  वरिष्ठ और युवा पत्रकारिता का मिश्रण  संजय चौहान  जी ने शेयर की है। संजय सोशल मीडिया के मशहूर पत्रकार होने के साथ ही और पहाड़ को लेकर हमेशा चिंतित रहने वाले विद्वार पत्रकार हैं। संजय अपनी लेखनी से उत्तराखंड में पत्रकारिता के लिए सबसे प्रतिष्ठित उमेश डोभाल स्मृति सम्मान से सम्मानित हो चुके हैं)

बच्चों के हौंसलों को सलाम 

उत्तराखंड के सीमांत जिले चमोली के देवाल विकासखंड के प्राथमिक विद्यालय भराण (वाण गांव) के स्कूली बच्चों के इस बर्फीले डांस की हर कोई दाद रहा है। कहा जाता है कि पहाड़ में जीने के लिए पहाड़ जैसी ही इच्छाशक्ति की जरूरत होती है। और छोटे-छोटे नन्हे-मुन्हे बच्चे इसी पहाड़नुमा इच्छाशक्ति का परिचय दे रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.