Uttar Pradesh , Uttarakhand News | उत्तर प्रदेश , उत्तराखंड की ताजा खबरें

मकर संक्राति स्नान पर्व का ट्रैफिक प्लान जारी, दो दिन भारी वाहनों की एंट्री नहीं

हरिद्वार: कुंभ मेला पुलिस ने मकर संक्रांति स्नान पर्व के लिए ट्रैफिक प्लान जारी कर दिया है। इसके तहत 13 जनवरी रात से दो दिन के लिए शहर में भारी वाहनों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। दिल्ली व मुजफ्फरनगर की ओर से आने वाले निजी वाहन लंढौरा से वाया लक्सर हरिद्वार पहुंचे। वहीं, सहारनपुर की ओर से आने वाले वाहनों को भगवानपुर से झबरेड़ा होते हुए लंढौरा-लक्सर मार्ग से हरिद्वार भेजा जाएगा। रोडवेज बसों के लिए यह डायवर्जन केवल यातायात का दबाव बढ़ने पर लागू होगा।

कुंभ मेला आइजी संजय गुंज्याल ने बताया कि दिल्ली की ओर से आने वाले हल्के वाहनों को मंगलौर बस अड्डे से डायवर्ट कर लंढौरा, लक्सर से जगजीतपुर पुलिया डायवर्जन से दक्षद्वीप होते हुए बैरागी कैंप, चंडी चैक होते हुए चमगादड़ टापू मैदान पर पार्क कराया जाएगा। इन वाहनों की वापसी रुड़की हाईवे से होगी। देहरादून की ओर से हरिद्वार आने वाले छोटे चार पहिया वाहन पावन धाम स्थित पार्किंग व चमगादड़ टापू में पार्क होंगे। ये दोनों पार्किंग भर जाने पर देहरादून की ओर से आने वाले वाहनों को नेपाली तिराहे से डायवर्ट कर चीला मार्ग से गौरी शंकर पार्किंग में लाया जाएगा। कुंभ मेला आइजी ने बताया कि दिल्ली, मेरठ, मुजफ्फरनगर, रुड़की की ओर से आने वाली रोडवेज बसें हाईवे से आकर ऋषिकुल पुल पार कर उत्तराखंड राज्य परिवहन बस अड्डे पर जाएंगी व इनकी वापसी भी इसी मार्ग से होगी। यदि राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहनों का अधिक दबाव रहता है तो इन बसों को मंगलौर बस अड्डे डायवर्ट कर लंढौरा, लक्सर से जगजीतपुर तिरछी पुलिया डाइवर्जन से दक्षद्वीप होते हुए बैरागी पार्किंग पर पार्क कराया जाएगा। वहीं, देहरादून की ओर से आने वाली रोडवेज बसें भी हरिद्वार बस अड्डे में पार्क कराई जाएंगी। जबकि निजी व अन्य बसें मोतीचूर व ऋषिकुल मे पार्क होंगी। उन्होंने बताया कि हरिद्वार शहरी क्षेत्र में 13 जनवरी की रात 12 बजे से 15 जनवरी की रात 10 बजे तक भारी वाहनों की आवाजाही प्रतिबंधित रहेगा। दूध, तेल, गैस आदि के ट्रक व टैंकर पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.