Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

उत्तराखंड शीतलहर की चपेट में, आठ शहरों में न्यूनतम तापमान दो डिग्री सेल्सियस से नीचे

उत्तराखंड जबरदस्त शीतलहर की चपेट में है। दिनभर बर्फीली हवा की चुभन बेचैन करती रही। प्रदेश में आठ शहरों में न्यूनतम तापमान दो डिग्री सेल्सियस से नीचे रिकार्ड किया गया। वहीं छह शहरों में अधिकतम तापमान दहाई के अंक को भी नहीं छू पाया। चमोली के जोशीमठ और कुमाऊं के मुक्तेश्वर में पारा शून्य से नीचे पहुंच गया है, जबकि अल्मोड़ा में यह शून्य के करीब रहा। मौसम विभाग के अनुसार मौमस का यह मिजाज आगे भी बना रहेगा। वहीं, हरिद्वार में कड़ाके की ठंड की चेतावनी को देखते हुए कक्षा एक से आठवीं तक के स्कूलों में 27 दिसंबर को अवकाश घोषित कर दिया है।

गुरुवार सुबह से प्रदेश में ज्यादातर स्थानों पर बादल छाए रहे। पहाड़ से लेकर मैदान तक बर्फीली हवा डेरा डाले रही। मैदानी क्षेत्रों में सुबह और शाम कोहरे के कारण जनजीवन प्रभावित हो रहा है। हालांकि दिन में हल्की धूप के दर्शन हुए, लेकिन इससे राहत का एहसास नहीं हुआ।  राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार प्रदेश में अधिकतम तापमान सामान्य से चार से पांच डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान सामान्य से औसतन एक से दो डिग्री सेल्सियस कम है।

उन्होंने बताया कि 31 दिसंबर से मौसम फिर करवट बदलेगा। इस दौरान पहाड़ से लेकर मैदान तक बारिश और बर्फबारी के आसार हैं। शुक्रवार को भी प्रदेश में शीतलहर का प्रकोप जारी रहेगा। उच्च हिमालयी क्षेत्रों में बर्फबारी तो मैदानी इलाकों में घने कोहरे के आसार हैं।

हरिद्वार में कक्षा आठ तक के स्कूल बंद रहेंगे

हरिद्वार में मौसम विज्ञान केंद्र की कड़ाके की ठंड की चेतावनी को देखते हुए जिलाधिकारी के निर्देश पर मुख्य शिक्षाधिकारी डा आनंद भारद्वाज ने कक्षा एक से आठवीं तक के स्कूलों में 27 दिसंबर को अवकाश घोषित कर दिया है। मुख्य शिक्षाधिकारी डा आनंद भारद्वाज ने बताया आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत जिले के सभी सरकारी, गैर सरकारी, वित्त विहीन, सीबीएसई, आइसीएसई व अन्य माध्यमों से संचालित पब्लिक स्कूलों में कक्षा एक से आठवीं तक शुक्रवार को अवकाश घोषित कर दिया गया है। मुख्य शिक्षाधिकारी ने कहा सभी उप शिक्षाधिकारियों, खंड शिक्षाधिकारियों, प्रधानाध्यापकों और स्कूल प्रबंधकों को आदेश का कड़ाई से पालन करने का निर्देश दिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.