Uttarakhand News | उत्तराखंड की ताजा खबरें

विश्व घटनाक्रम : नवंबर 2019 की प्रमुख वैश्विक खबरें

बोलीविया के राष्ट्रपति इवो मोरालेस ने इस्तीफा दिया : 11 नवंबर

दक्षिण अमेरिकी देश बोलीविया के राष्ट्रपति इवो मोरालेस ने सेना और जनता के बढ़ते दबाव के बीच इस्तीफा दे दिया है. उन पर चुनाव में गड़बड़ी करने का आरोप है. चुनाव नतीजों में उनकी जीत के बाद से ही बोलीविया में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए थे. इन विरोध प्रदर्शनों में हुई हिंसा के में कई लोग मारे गए थे, जिसके बाद हालात और भी उग्र हो गए थे. इस्तीफा देने से पहले इवो मोरालेस ने देश में फिर से चुनाव कराने की पेशकश की थी मगर सेना प्रमुख ने उन्हें इस्तीफा देने को कहा. इवो मोरालेस 13 साल तक बोलीविया के राष्ट्रपति रहे. पड़ोसी देशों क्यूबा और वेनेजुएला ने इवो मोरालेस के इस्तीफे को तख्तापलट बताया है. वहीं अमेरिका का कहना है कि वह बोलीविया के हालातों पर नजर रखे हुए है.

माली में एक आतंकी हमला, 24 सैनिकों की मौत : 19 नवंबर

पश्चिमी अफ्रीकी देश माली में एक आतंकी हमले में 24 सैनिकों की मौत हो गई. यह हमला देश के पूर्वोत्तर स्थित तबनकोर्ट नामक इलाके में हुआ. हमला उस वक्त हुआ जब इस इलाके में माली और उसके पड़ोसी देश नाइजर के सैन्य वल संयुक्त अभियान पर थे. सैन्य बलों ने आतंकी हमले का मुंहतोड़ जवाब देते हुए 17 आतंकियों को मार गिराया और 100 से अधिक को पकड़ लिया गया. माली में कुछ वक्त से आतंकी घटनाएं भड़ रही हैं. नवंबर की शुरुआत में भी वहां एक सैन्य ठिकाने पर हुए हमले में 53 सैनिक मारे गए थे.

गोटाबाया राजपक्षे ने बड़े भाई को नामित किया प्रधानमंत्री : 20 नवंबर

श्रीलंका के नए राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे ने अपने भाई महिंदा राजपक्षे को प्रधानमंत्री नामित कर दिया है. श्रीलंका के निवर्तमान प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे के इस्तीफे के बाद उन्होंने महिंदा राजपक्षे को प्रधानमंत्री नामित किया. राष्ट्रपति चुनाव में राजपक्षे की जीत के बाद रानिल विक्रमसिंघे पर इस्तीफे को लेकर दबाव बनाया जा रहा था. विक्रमसिंघे ने कहा कि संसद में उनकी सरकार अभी भी बहुमत में है मगर उन्होंने राष्ट्रपति चुनाव में राजपक्षे को मिले जनादेश का सम्मान करते हुए इस्तीफा देने का फैसला किया है. श्रीलंका में 17 नवंबर को हुए चुनाव में गोटाबाया राजपक्षे ने प्रेमदास को 13 लाख से अधिक मतों से पराजित किया था. राजपक्षे को 52.25 प्रतिशत (69,24,255) मत मिले जबकि प्रेमदास को 41.99 प्रतिशत (55,64,239) वोट प्राप्त हुए. अन्य उम्मीदवारों को 5.76 प्रतिशत वोट मिले. चुनाव में कुल मिलाकर लगभग 83.73 प्रतिशत मतदान हुआ था. 18 नवंबर राजपक्षे ने राष्ट्रपति पद की शपथ ली.

चीन की चेतावनी नजरंदाज कर ट्रंप ने किया हांगकांग का समर्थन : 28 नवंबर

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन की चेतावनी को नजरंदाज करते हुए हांगकांग में लोकतंत्र और मानवाधिकार के समर्थन संबंधी विधेयक पर हस्ताक्षर कर दिए. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिकी संसद के दोनों सदनों में यह विधेयक भारी बहुमत से पास हुआ जिसके बाद राष्ट्रपति ट्रंप ने इस पर मुहर लगा दी. इस विधेयक में हांगकांग में मानवाधिकारों का हनन करने वाले अधिकारियों पर पाबंदियां लगाने का प्रस्ताव है. साथ ही विधेयक में कहा गया है कि अमेरिका इस बात की निगरानी करेगा कि चीन हांगकांग में नागरिकों की स्वतंत्रता और मानव अधिकारों का हनन तो नहीं कर रहा. अमेरिका के इस निर्णय पर नाराजगी जताते हुए चीन ने उसके खिलाफ कार्रवाई करने की धमकी दी है. चीन पहले भी अमेरिका को हांगकांग के मामले में हस्तक्षेप न करने की चेतावनी दे चुका है. गौरतलब है कि हांगकांग में इन दिनों लोकतंत्र के समर्थन में विशाल जनांदोलन चल रहा है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.